BCCI acting president steps in favor of Hardik Pandya – KL Rahul, says Give permission to play in New Zealand


नई दिल्ली: महिलाओं पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के बाद निलंबित चल रहे हार्दिक पांड्या और केएल राहुल को धीरे-धीरे पूर्व क्रिकेटरों से लेकर बीसीसीआई (BCCI) तक का समर्थन मिलने लगा है. बीसीसीआई के कार्यवाहक अध्यक्ष सीके खन्ना ने शनिवार (19 जनवरी) को प्रशासकों की समिति (सीओए) से पांड्या और राहुल पर लगे बैन को हटाने का आग्रह किया. उन्होंने इस मामले में विशेष आम बैठक (एसजीएम) बुलाने से इंकार कर दिया. 

टेस्ट क्रिकेटर रह चुके सीके खन्ना ने कहा कि बोर्ड अधिकारियों की इन दोनों खिलाड़ियों के व्यवहार की जांच के लिए लोकपाल नियुक्त करने के लिए एसजीएम बुलाने की मांग सही नहीं है क्योंकि कोर्ट में अगले सप्ताह इस मामले पर सुनवाई होनी है. खन्ना ने बीसीसीआई को संचालन कर रहे सीओए को पत्र में लिखा, ‘उन्होंने (पांड्या-राहुल) गलती की और उन्हें पहले ही निलंबित किया जा चुका है और ऑस्ट्रेलिया से वापस बुलाया गया. उन्होंने बिना शर्त माफी भी मांग ली है.’ 

सीके खन्ना ने कहा, ‘मेरा सुझाव है कि जांच लंबित रहने तक हमें दोनों क्रिकेटरों को तुरंत प्रभाव से भारतीय टीम में शामिल करना चाहिए. उन्हें जल्द से जल्द न्यूजीलैंड में टीम से जुड़ने की अनुमति दी जानी चाहिए.’ सीओए चाहते हैं कि सुप्रीम कोर्ट पांड्या और राहुल के भाग्य का फैसला करने के लिए लोकपाल की नियुक्ति करे. वे ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज में नहीं खेल पाए थे और उनका न्यूजीलैंड सीरीज से भी बाहर रहना तय है. माना जा रहा है कि खन्ना के एजीएम नहीं बुलाने के फैसले और खेलने देने की मांग के बाद पांड्या और राहुल का पक्ष मजबूत हो सकता है. अगर जांच ज्यादा दिनों तक चलती है तो उन्हें खेलने का मौका भी मिल सकता है.  

इन दोनों को कई महिलाओं के साथ संबंध बनाने और कार्यक्रम में इसको लेकर मजाक उड़ाने की कड़ी आलोचना झेलनी पड़ी थी. लगभग 14 राज्य इकाइयों, जिनमें अधिकतर बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष एन श्रीनिवासन के वफादार हैं, ने खन्ना से आपात एसजीएम बुलाने का आग्रह किया है, जिसे दस दिन के समय में बुलाना होता है. 

कोषाध्यक्ष अनिरूद्ध चौधरी ने भी खन्ना को पत्र लिखकर जल्द से जल्द एसजीएम बुलाने का आग्रह किया है ताकि बोर्ड के सदस्य लोकपाल की नियुक्ति पर फैसला कर सकें. खन्ना ने अपने पत्र में लिखा है कि क्योंकि मामला अभी कोर्ट के अधीन है, इसलिए वह इंतजार करना चाहेंगे. 
सीके खन्ना ने चौधरी के जवाब में कहा, ‘बीसीसीआई के संविधान के अनुसार लोकपाल की नियुक्ति वार्षिक आम बैठक (एजीएम) में की जा सकती है और इसके अलावा मामला न्यायालय के अधीन है.’ खन्ना ने इस पर बीसीसीआई के कार्यवाहक सचिव अमिताभ चौधरी की राय भी जाननी चाही और उन्होंने भी लोकपाल की नियुक्ति को लेकर नए संविधान के अनुच्छेद 40 का हवाला दिया. 

बीसीसीआई के एक सीनियर अधिकारी ने गोपनीयता की शर्त पर कहा, ‘खन्ना या अमिताभ विशेष आम बैठक बुलाने के लिए नोटिस पर क्यों हस्ताक्षर करें जबकि मामला कोर्ट के अधीन है. इसमें अदालत की अवमानना का जोखिम बना रहेगा.’ इससे पहले पूर्व कप्तान सौरव गांगुली भी कह चुके हैं कि पांड्या और केएल राहुल को खेलने का मौका मिलना चाहिए. उन्होंने साथ ही कहा कि यह सुनिश्चित करना चाहिए कि वे दोबारा ऐसी गलती ना करें. 

(इनपुट: भाषा)





Source link

भारत vs ऑस्ट्रेलिया, Vijay Shankar, Hardik Pandya, Shubman Gill, KL Rahul, India vs Australia, Virat kohli, INDvsAUS, Adelaide ODI


zeenews.india.com understands that your privacy is important to you and we are committed for being transparent about the technologies we use.  This cookie policy explains how and why cookies and other similar technologies may be stored on and accessed from your device when you use or visit zeenews.india.com websites that posts a link to this Policy (collectively, “the sites”). This cookie policy should be read together with our Privacy Policy.

By continuing to browse or use our sites, you agree that we can store and access cookies and other tracking technologies as described in this policy.

What are Cookies and Other Tracking Technologies?

A cookie is a small text file that can be stored on and accessed from your device when you visit one of our sites, to the extent you agree.  The other tracking technologies work similarly to cookies and place small data files on your devices or monitor your website activity to enable us to collect information about how you use our sites. This allows our sites to recognize your device from those of other users on our sites. The information provided below about cookies also applies to these other tracking technologies.


How do our sites use Cookies and Other Tracking Technologies?

Zeenews.com use cookies and other technologies to store information in your web browser or on your mobile phone, tablet, computer, or other devices (collectively “devices”) that allow us to store and receive certain pieces of information whenever you use or interact with our zeenews.india.com applications and sites. Such cookies and other technologies helps us to identify you and your interests, to remember your preferences and to track use of zeenews.india.com We also use cookies and other tracking technologies to control access to certain content on our sites, protect the sites, and to process any requests that you make to us.
We also use cookies to administer our sites and for research purposes, zeenews.india.com also has contracted with third-party service providers to track and analyse statistical usage and volume information from our site users. These third-party service providers use persistent Cookies to help us improve user experience, manage our site content, and analyse how users navigate and utilize the sites.

First and Third-party Cookies

First party cookies

These are those cookies that belong to us and which we place on your device or are those set by a website that is being visited by the user at the time (e.g., cookies placed by zeenews.india.com)

Third-party cookies

Some features used on this website may involve a cookie being sent to your computer by a third party. For example, if you view or listen to any embedded audio or video content you may be sent cookies from the site where the embedded content is hosted. Likewise, if you share any content on this website through social networks (for example by clicking a Facebook “like” button or a “Tweet” button) you may be sent cookies from these websites. We do not control the setting of these cookies so please check the websites of these third parties for more information about their cookies and how to manage them.

Persistent Cookies
We use persistent cookies to improve your experience of using the sites. This includes recording your acceptance of our cookie policy to remove the cookie message which first appears when you visit our site.
Session Cookies 
Session cookies are temporary and deleted from your machine when your web browser closes. We use session cookies to help us track internet usage as described above.
You may refuse to accept browser Cookies by activating the appropriate setting on your browser. However, if you select this setting you may be unable to access certain parts of the sites. Unless you have adjusted your browser setting so that it will refuse cookies, our system will check if cookies can be captured when you direct your browser to our sites.
The data collected by the sites and/or through Cookies that may be placed on your computer will not be kept for longer than is necessary to fulfil the purposes mentioned above. In any event, such information will be kept in our database until we get explicit consent from you to remove all the stored cookies.

We categorize cookies as follows:

Essential Cookies

These cookie are essential to our site in order to enable you to move around it and to use its features. Without these essential cookies we may not be able to provide certain services or features and our site will not perform as smoothly for you as we would like. These cookies, for example, let us recognize that you have created an account and have logged in/out to access site content. They also include Cookies that enable us to remember your previous actions within the same browsing session and secure our sites.

Analytical/Performance Cookies

These cookies are used by us or by our third-party service providers to analyse how the sites are used and how they are performing. For example, these cookies track what content are most frequently visited, your viewing history and from what locations our visitors come from. If you subscribe to a newsletter or otherwise register with the Sites, these cookies may be correlated to you.

Functionality Cookies

These cookies let us operate the sites in accordance with the choices you make. These cookies permit us to “remember you” in-between visits. For instance, we will recognize your user name and remember how you customized the sites and services, for example by adjusting text size, fonts, languages and other parts of web pages that are alterable, and provide you with the same customizations during future visits.

Advertising Cookies

These cookies collect information about your activities on our sites as well as other sites to provide you targeted advertising. We may also allow our third-party service providers to use cookies on the sites for the same purposes identified above, including collecting information about your online activities over time and across different websites. The third-party service providers that generate these cookies, such as, social media platforms, have their own privacy policies, and may use their cookies to target advertisement to you on other websites, based on your visit to our sites.

How do I refuse or withdraw my consent to the use of Cookies?

If you do not want cookies to be dropped on your device, you can adjust the setting of your Internet browser to reject the setting of all or some cookies and to alert you when a cookie is placed on your device. For further information about how to do so, please refer to your browser ‘help’ / ‘tool’ or ‘edit’ section for cookie settings w.r.t your browser that may be Google Chrome, Safari, Mozilla Firefox etc.
Please note that if your browser setting is already setup to block all cookies (including strictly necessary Cookies) you may not be able to access or use all or parts or functionalities of our sites.
If you want to remove previously-stored cookies, you can manually delete the cookies at any time from your browser settings. However, this will not prevent the sites from placing further cookies on your device unless and until you adjust your Internet browser setting as described above.
For more information on the development of user-profiles and the use of targeting/advertising Cookies, please see www.youronlinechoices.eu if you are located in Europe or www.aboutads.info/choices if in the United States.

Contact us

If you have any other questions about our Cookie Policy, please contact us at:
If you require any information or clarification regarding the use of your personal information or this privacy policy or grievances with respect to use of your personal information, please email us at [email protected]





Source link

CoA requests to Supreme Court, Investigation of Hardik Pandya- KL Rahul Should be done by ombudsman | CoA की सुप्रीम कोर्ट से गुजारिश


सीओए ने सुप्रीम कोर्ट से कहा है कि राहुल, पंड्या पर फैसला जल्दी होना चाहिए और उसके लिए लोकपाल की नियुक्ति की जाए. 

CoA की सुप्रीम कोर्ट से गुजारिश- हार्दिक-राहुल मामले की लोकपाल से हो जांच

(फाइल फोटो)





Source link

Shikhar Dhawan says, suspended Hardik Pandya is crucial for the Team balance | पंड्या पर लगा बैन तो दुखी हुए ‘गब्बर’, कहा


मेलबर्न: ऐसा लगता है कि भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ‘गब्बर’ ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या पर बैन लगने से दुखी हैं. मेलबर्न वनडे की पूर्वसंध्या पर उनका दर्द छलका. धवन ने कहा कि पंड्या के न होने से टीम का संतुलन बिगड़ा है. धवन ने कहा है कि उनके न होने से टीम पांचवें गेंदबाज के समस्या से जूझ रही है. भारत और ऑस्ट्रेलिया की बीच इस समय तीन मैचों की वनडे सीरीज खेली जा रही जिसमें दोनों टीमें 1-1 की बराबरी पर हैं. सीरीज का आखिरी और निर्णायक मुकाबला शुक्रवार को मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड (एमसीजी) पर खेला जाएगा. दूसरे वनडे में टीम ने खलील अहमद के स्थान पर मोहम्मद सिराज को मौका दिया था. 

धवन ने कहा, “हार्दिक के टीम में होने से जो संतुलन मिलता है वो काफी अहम होता है. केदार जाधव भी जब खेलते हैं तो हमारे पास ऑफ स्पिनर का विकल्प होता है जो हमारे लिए फायदेमंद होता है. मैं कहूंगा कि वो हमारे लिए काफी अहम हैं क्योंकि वह जब भी आते हैं विकेट लेते हैं. उन्होंने कई बार बड़ी साझेदारियां तोड़ी हैं. टेस्ट और वनडे में हरफनमौला खिलाड़ी का होना बराबरी की अहमियत रखता है.”

पंड्या को टीवी शो ‘कॉफी विद करण’ में महिलाओं के खिलाफ दिए गए विवादास्पद बयान के बाद प्रतिबंधित कर दिया गया है और उनके खिलाफ जांच भी की जाएगी. सिराज और खलील के बारे में धवन ने कहा कि यह दोनों युवा खिलाड़ी हैं और समय के साथ परिपक्व हो जाएंगे. सलामी बल्लेबाज ने कहा, “उनकी गेंदबाजी को लेकर चिंता नहीं है. वह अभी आए हैं और युवा हैं. हम उनका साथ देंगे. जब वह अच्छी टीम के साथ खेलेंगे तो इसी तरह वह सीखेंगे.”

उन्होंने कहा, “अगर वह रन के लिए जाते हैं तो वहां उन्हें अपने आप को सुधारना होगा और अपने खेल के बारे में सोचना होगा. इसी तरह वह और परिपक्व बनेंगे. उन्हें यहां मौके मिल रहे हैं यह उनके लिए अच्छी बात है.” धवन ने उम्मीद है कि टीम सीरीज अपने नाम करेगी और ऑस्ट्रेलियाई जमीन पर पहली द्विपक्षीय सीरीज अपने नाम करेगी. भारत ने टेस्ट सीरीज में भी 2-1 से जीत हासिल की थी. उन्होंने कहा, “सीरीज जीतना हमारे लिए बड़ी बात है. अगर हम कल जीतते हैं तो हमारे लिए टेस्ट और यह सीरीज जीतना बहुत बड़ी उपलब्धि होगी. हमें इसकी अहमियत समझते हैं और इसे लंबे समय तक याद रखेंगे.”

बाएं हाथ के बल्लेबाज ने कहा, “पिछले मैच में टीम का प्रदर्शन देख काफी अच्छा लगा. खासकर धोनी ने जिस तरह से दोनों मैचों में बल्लेबाजी की. हम इस बात से खुश हैं कि धोनी अपनी लय में दोबारा आ रहे हैं क्योंकि उनके जैसा खिलाड़ी दूसरे छोर पर खड़े बल्लेबाज को काफी आत्मविश्वास देता है.” 





Source link

thats how BCCI this step makes KL Rahul & Hardik Pandya comeback delay


खास बातें

  1. राहुल और पंड्या को को बड़ा नुकसान
  2. लोकपाल के जिम्मे सौंप देना बेहतर होगा-बीसीसीआई
  3. दोनों को बीच ऑस्ट्रेलिया दौरे वापस बुलाया गया था

मुंबई:

क्रिकेटर हार्दिक पंड्या और लोकेश राहुल को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी के लिए इंतजार करना होगा क्योंकि प्रशासकों की समिति (सीओए) ने वीरवार को सर्वोच्च अदालत से इस मामले में लोकपाल नियुक्त करने की अपील की है. न्यायाधीश एस.ए. बोब्डे और ए.एम. सापरे की पीठ ने इस मामले की सुनवाई को अगले सप्ताह तक के लिए टाल दिया है. पंड्या और राहुल को टीवी शो ‘कॉफी विद करण’ में महिलाओं के खिलाफ विवादास्पद टिप्पणी करने का खामियाजा प्रतिबंध के तौर पर उठाना पड़ा है. इसी कारण यह दोनों आगामी न्यूजीलैंड दौर पर वनडे सीरीज में नहीं खेल पाएंगे. 

अदालत में सीओए का पक्ष रख रहे वरिष्ठ वकील पराग त्रिपाठी ने कहा कि इस मुद्दे को लोकपाल के लिए जिम्मे सौंप देना बेहतर होगा. पराग ने अदालत में कहा कि सीओए ने फैसला किया है कि वह इस मसले पर कोई और टिप्पणी तब तक नहीं करेगी, जब तक लोकपाल कोई फैसला नहीं ले लेता. इस मामले में लोकपाल की जरूरत है. 

यह भी पढ़ेंटीवी शो विवाद के बाद सामने आए हार्दिक पंड्या के पिता, बोले- मेरा बेटा न घर से निकल रहा है न ही उठा रहा है किसी का फोन 

वीरवार को हुई सुनवाई में जब पूर्व महान्यायवादी पी.एस. नरसिम्हा को इस मामले में वरिष्ठ वकील गोपाल सुब्रामण्यम के स्थान पर एमिकस क्यूरी बनाने का सुझाव दिया गया तो अदालत ने कहा कि उनसे पूछा जाना चाहिए क्या वह इस पद को ग्रहण करने को तैयार हैं. सुब्रामण्यम ने एमिकस क्यूरी बने रहने पर अपनी असमर्थता जाहिर की है. बीसीसीआई के नए संविधान को राज्यों द्वारा अपनाने की स्टेटस रिपोर्ट पर ही चर्चा हुई.

टिप्पणियां

VIDEO: एडिलेड टेस्ट में जीत के बाद विराट कोहली प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान

इस बीच राज्य संघों का पक्ष रख रहे महान्यायवादी तुषार मेहता ने कहा है कि सीओए ने अपना काम कर दिया है और अब बीसीसीआई के चुनाव कराए जाने चाहिए

 





Source link

Hardik Pandya, KL Rahul Case: Cricket Board Administrators Seek Appointment Of Ombudsman To Decide Fate


A bench comprising justices SA Bobde and AM Sapre said it will hear the matter after a week when senior advocate PS Narsimha takes over charge as amicus curiae in the matter.

The top court appointed Narsimha as amicus after senior advocate Gopal Subramanium withdrew his consent from being amicus curiae in the matter.

Senior advocate Parag Tripathi, appearing for the CoA, said that the court should direct appointment of ombudsman in the BCCI urgently as the fate of two young promising cricketers needs to be decided immediately.

The controversy was triggered by Pandya and Rahul’s much-condemned statements on ‘Koffee with Karan’ in which they spoke about hook-ups with multiple women and being casual about it even with their parents.

The comments have been described as “inappropriate” by India skipper Virat Kohli.

(With PTI inputs)



Source link

“People Make Mistakes”: Sourav Ganguly Defends Hardik Pandya, KL Rahul


Hardik Pandya and KL Rahul might not fetch much support from the cricket fraternity for their indecent comments on a TV show, but former Indian skipper Sourav Ganguly has backed the duo and said “people make mistakes.” Ganguly further stressed on his point by saying, “we are all human beings and it is not necessary that everything we do comes out perfectly”. The 46-year-old Ganguly also said they should move on from here and make sure they don’t repeat such a mistake again.

“I haven’t watched that episode. I watch ‘Comedy Nights with Kapil’. Jokes apart, I feel that you can’t generalise that only modern day cricketers should behave responsibly. People make mistakes. Let’s not get too far into that,” Ganguly said.

“I am sure whoever has done it will realise that and come out as a better person. We are all human beings. We are not machines that everything you put in comes out perfect. You have just got to live life and let others live. They are responsible people. They may be role models but they are under pressure all the time to perform,” he added.

“Certain things happen in life and as everyone, we should move on and make sure that it doesn’t happen again.”

Ganguly also said that modern day cricketers are responsible and Virat Kohli is a fantastic role model for the same.

“I feel modern day cricketers are also responsible, disciplined and obedient. In life, certain things happen and you make some mistakes so, let’s not get too far into that. Look at Virat Kohli, he is such a fantastic role model. India is a fortunate country. Every generation produces players who all of us cherish,” Ganguly said.

Pandya and Rahul were slammed over their comments. Despite an apology to fans and their own teammates, Pandya and Rahul were suspended by the BCCI and ousted from a three-match ODI series against Australia in Sydney.

(With IANS inputs)



Source link

Ind vs Aus: Hardik Pandya gives crucial balance to the team, says Shikhar Dhawan


खास बातें

  1. कहा-वनडे हो या टेस्‍ट, टीम में ऑलराउंडर जरूरी
  2. खलील और सिराज के कमजोर प्रदर्शन का किया बचाव
  3. अनुभव के साथ इनके प्रदर्शन में सुधार आएगा

मेलबर्न:

टीम इंडिया के ओपनर शिखर धवन (Shikhar Dhawan) ने स्‍वीकार किया है कि हार्दिक पंड्या (Hardik Pandya)जैसे हरफनमौला की मौजूदगी टीम के संतुलन के लिहाज से जरूरी है. उन्‍होंने कहा कि टेस्‍ट मैच हो या वनडे, हरफनमौला किसी भी टीम के लिए अहम हैं. हालांकि उन्‍होंने इस बात से इनकार किया कि ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ (India Vs Australia) मौजूदा वनडे सीरीज में भारतीय टीम को पांचवें गेंदबाज की कमी महसूस हो रही है. धवन ने यह बात दोनों देशों के बीच शुक्रवार को मेलबर्न में होने वाले तीसरे वनडे (3rd ODI) की पूर्व संध्‍या पर कही. इस बात की पूरी संभावना है कि पांचवें गेंदबाज के रूप में, पहले दो मैचों में खलील अहमद और मोहम्मद सिराज के नाकाम रहने के कारण भारतीय टीम की कल के मैच की प्‍लेइंग इलेवन में बदलाव हो सकता है. केदार जाधव और हरफनमौला विजय शंकर को 11 खिलाड़ि‍यों की टीम में जगह मिल सकती है.

सबसे ज़ुदा है ‘गब्‍बर’ का अंदाज, शिखर धवन ने पोस्‍ट किया बांसुरी बजाते हुए यह VIDEO

पांचवें गेंदबाज के रूप में खलील अहमद और मोहम्‍मद सिराज के कमजोर प्रदर्शन के बावजूद धवन ने दोनों युवा तेज गेंदबाजों का बचाव किया. उन्‍होंने कहा कि ये दोनों तेज गेंदबाज नए हैं और अनुभव के साथ इनके प्रदर्शन में सुधार आएगा. गौरतलब है कि ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज में भारतीय टीम (Team India) को तेज गेंदबाज हरफनमौला की कमी खल रही है. पंड्या एक टीवी शो पर अश्लील बयानबाजी के बाद से निलंबित है. धवन ने मैच से पूर्व प्रेस कांफ्रेंस में कहा,‘हार्दिक के होने से जो संतुलन बनता है , वह काफी अहम है.’उन्होंने कहा,‘केदार जाधव के खेलने की स्थिति में उनकी ऑफ स्पिन बॉलिंग महत्‍वपूर्ण होगी. मैं कहूंगा कि वह (केदार) हमारा ‘गोल्डन आर्म ‘ है और हमेशा विकेट लेता है. उसने अक्सर बड़ी साझेदारियां तोड़ी है.

टिप्पणियां

ICC ने लिया #10YearChallenge, एमएस धोनी और लसिथ मलिंगा के ये फोटो किए शेयर…

खलील अहमद और मोहम्‍मद सिराज के बारे में उन्होंने कहा कि ये दोनों अनुभव के साथ निखरेंगे. वे अभी नए हैं और अनुभव के साथ सीखेंगे. हमें उनका साथ देना है ताकि वे अपनी गलतियों से सबक लेकर परिपक्व बनें.’ धवन ने कहा कि टेस्ट सीरीज जीतने के बाद अब भारतीय टीम वनडे सीरीज भी जीतकर इतिहास रचना चाहती है. उन्होंने कहा ,’ सीरीज जीतना काफी जरूरी है. टेस्ट और वनडे दोनों जीतना बड़ी उपलब्धि होगी. हमने पिछले मैच में शानदार टीम प्रदर्शन किया, खासकर महेंद्र सिंह धोनी का प्रदर्शन बेहतरीन रहा. हमें खुशी है कि धोनी ने अपनी लय हासिल कर ली है. उनके जैसा बल्लेबाज दूसरे छोर पर बल्लेबाज को आत्मविश्वास देता है.’ तीसरे वनडे मैच को लेकर उन्‍होंने कहा कि ‘ऑस्ट्रेलिया अच्छी टीम है लेकिन उन्‍हें स्मिथ और वार्नर की कमी खल रही है. हमारे पास भुवी और शमी के रूप में अनुभवी गेंदबाज है और हम पहले दस ओवर में दबाव बना लेते हैं. हमारी कोशिश तीसरे वनडे में भी ऐसा ही करने की होगी.(इनपुट: एजेंसी)





Source link

Hardik Pandya Refuses To Step Out Of Home, Not Taking Calls, Reveals Father


Hardik Pandya and KL Rahul appeared on a TV chat show earlier this month and sparked outrage with their sexist comments about women. Social media was enraged as Hardik Pandya bragged about his “hook-ups” with several women and said he liked to check them out at bars or nightclubs. While Pandya boasted about being open with his parents about the liaisons, Rahul was more reserved with his comments. Nevertheless, the pair were blasted for their distasteful remarks by Twitter users. Consequently, the Board of Control for Cricket in India (BCCI) suspended the duo for an indefinite period and ordered them to return home in disgrace from India’s ongoing tour of Australia.

Pandya’s father provided an update on his son’s current state of mind and said that the India all-rounder has not stepped out of the house since returning from Australia and did not even celebrate Makar Sankranti.

“He watched the match (India vs Australia 2nd ODI). Ever since he has returned from Australia, he has not stepped out of the house. He is also not taking any calls… he is just taking rest,” Pandya’s father Himanshu was quoted as saying by Mid Day.

“It’s a festival… a public holiday in Gujarat, but Hardik did not fly any kites. He loves flying kites but his busy cricketing schedule never allowed him to be at home during this festival over the last few years. This time, he had a chance to fly kites, but because of the adverse situation, there was no mood to celebrate the festival,” he added. 

“He is very disappointed with the suspension and repents the views he expressed on the TV show. He is committed not to repeat the same mistake,” Himanshu said of his son’s take on the subject. 

“We have decided not to talk to him on this subject. Even his elder brother Krunal has not discussed anything about the episode with him. We are waiting for the BCCI’s decision,” he concluded.

On Monday, Hardik Pandya and KL Rahul tendered “unconditional” apologies for their sexist comments during a TV chat show.



Source link

Hardik Pandya has not come out of home after return from Australia, looses Gymkhana membership as well


मुंबई: एक टीवी शो पर विवादस्पद बयान देने के मामले में प्रतिबंधित होने के बाद ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या की मुसीबतें बढ़ती जा रही हैं. पहले वे टीम इंडिया से निलंबित हुए. हालांकि उनकी सजा अभी यह नहीं हुई है. वे केवल जांच पूरी होने तक निलंबित हैं इसके बाद सजा का फैसला होगा. निलंबन के बाद उनके स्पॉन्सर्स ने भी हाथ खींच लिए. अब मुंबई के खार जिमखाना ने उनसे क्लब की मानद सदस्यता वापिस ले ली है. बताया जा रहा है कि ऑस्ट्रेलिया से लौटने के बाद वे घर से बाहर नहीं निकले हैं. 

हार्दिक को टीवी शो पर अश्लील बयानबाजी करने के लिए ही बीसीसीआई ने पंड्या  और उनके साथ केएल राहुल को भी जांच होने तक निलंबित किया है. खार जिमखाना के मानद् महासचिव गौरव कपाड़िया ने प्रेस ट्रस्ट को बताया, ‘‘हार्दिक पंड्या को अक्टूबर 2018 में तीन साल की मानद् सदस्यता दी गई थी लेकिन क्लब की प्रबंध समिति ने सोमवार की शाम को इसे वापिस लेने का फैसला किया.’’ उन्होंने बताया कि इस तरह की सदस्यता खिलाड़ियों को दी जाती है. खार जिमखाना मुंबई के सबसे उम्दा और पुराने क्लबों में से एक है. 

घर से बाहर नहीं निकले हैं हार्दिक ऑस्ट्रेलिया से लौटने के बाद
इसी बीच हार्दिक के पिता, हिमांशु पांड्या ने बताया कि जब से हार्दिक ऑस्ट्रेलिया  से वापस आए हैं, तब से वे घर से बाहर नहीं निकले हैं न ही कोई फोन कॉल रिसीव कर रहे हैं. हिमांशु के मुताबिक  हार्दिक ने मकर संक्रांति का त्यौहार भी नहीं मनाया है. हार्दिक हर बार संक्रांति को जब घर पर रहते हैं तो पतंग जरूर उड़ाते हैं. इस बार उन्होंने पतंग नहीं उड़ाई जबकि उन्हें पतंग उड़ाना काफी पसंद है. 

कंपनियों ने भी तोड़ा नाता
इससे पहले ब्रांड्स और कंपनियों ने भी हार्दिक पांड्या और केएल राहुल से अपनी संबंद्धता पर पुनर्विचार कर दूरियां बना ली हैं. हार्दिक पांड्या का अभी तक जिलेट कंपनी से करार था. अब जिलेट कंपनी ने हार्दिक पांड्या से औपचारिक तौर पर नाता तोड़ दिया है. इन दोनों क्रिकेटरों की महिलाओं को लेकर की गई टिप्पणियों की जांच भी शुरू हो गई है जिसको लेकर पिछले दिनों काफी बवाल मचा था. हार्दिक और केएल ने मंगलवार को बीसीसीआई सीईओ राहुल जोहरी के सामने अपनी बात रखी. 

बताया जा रहा है कि यह बातचीत टेलीफोन के जरिये हुई. यह कापी संक्षिप्त बातचीत रही. दोनों ने कारण बताओ नोटिस के जवाब में जो लिखा था, केवल उसी पर बातचीत हुई. कल तक प्रशासकों की समिति (सीओए) को अपनी रिपोर्ट सौंपी जा सकती है. उनसे ऐसा कोई सवाल नहीं किया गया कि क्या इस तरह से मनोरंजन से जुड़े कार्यक्रम में भाग लेने के लिए उनके एजेंटों ने दबाव बनाया था.’’ 

Hardik and KL Rahul

इन दोनों खिलाड़ियों ने ‘काफी विद करण’ कार्यक्रम में कई महिलाओं के साथ संबंध बनाने और इसके बारे में अपने माता पिता के साथ खुलकर बात करने की बातें की थी जिसके बाद सोशल मीडिया पर उन्हें आलोचना झेलनी पड़ी थीं. इसके बाद दोनों को पिछले सप्ताह ही बीसीसीआई ने सीओए के साथ मिलकर लिए संयुक्त फैसले के तहत खेल के सभी प्रारुपों से तत्काल प्रभाव से प्रतिबंधित कर दिया था. बीसीसीआई के फैसले के बाद उन्हें ऑस्ट्रेलिया में जारी तीन वनडे मैचों की सीरीज बीच में छोड़कर स्वदेश लौटना पड़ा था.  इस फैसले के बाद दोनों ने ‘बिना शर्त’ माफी भी मांगी थी.

(इनपुट भाषा)





Source link